मोदी को ‘डिवाइडर इन चीफ’ बताने वाले की भारतीय नागरिकता रद्द, छुपाया था पाकिस्तानी कनेक्शन

Spread this

लोकसभा चुनावों (Lok Sabha election) से पहले प्रसिद्ध टाइम पत्रिका (Time magazine) में ‘डिवाइडर इन चीफ’ (Divider in Chief) नाम से कवर स्टोरी में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) के खिलाफ आग उगलने वाले लेखक और पत्रकार आतिश तासीर (Atish Ali Taseer) पर भारत सरकार ने कार्रवाई कि है। भारतीय गृह मंत्रालय ने इस मामले में आतिश तासीर द्वारा आवश्यक जानकारियां छिपाने कि वज़ह से ओसीआई (OCI) (ओवरसीज सिटीजनशिप ऑफ इंडिया (Overseas Citizenship of India)) का स्टेटस खत्म कर दिया है।

गौरतलब है की आतिश तासीर का जन्म ब्रिटेन में हुआ था और उन्होंने सरकार से यह बात छुपाई कि उनके पिता पाकिस्तानी मूल के थे। गृह मंत्रालय कि तरफ से इस बाबत जानकारी दी गई कि नागरिकता अधिनियम 1955 के मुताबिक, तासीर ओसीआई कार्ड के लिए योग्य नहीं हैं, इसकी वजह बताते हुए मंत्रालय के प्रवक्ता ने कहा कि ओसीआई कार्ड ऐसे व्यक्ति को नहीं दिया जा सकता जिसके माता-पिता या दादा-दादी पाकिस्तानी हों और उन्होंने यह बात छिपा कर रखी हो।

गृह मंत्रालय के प्रवक्ता के अनुसार 38 वर्षीय तासीर ने ‘बुनियादी जरूरतों को पूरा नहीं किया और जानकारी को छुपाया है। नागरिकता अधिनियम के अनुसार, अगर किसी व्यक्ति ने धोखे से, फर्जीवाड़ा कर या तथ्य छुपा कर ओसीआई कार्ड हासिल किया है तो ओसीआई कार्ड धारक के रूप में उसका पंजीकरण रद्द कर दिया जाएगा और उसे काली सूची में डाल दिया जाएगा। साथ ही, भविष्य में उसके भारत में प्रवेश करने पर भी रोक लग जाएगी।’ गौरतलब है की तासीर पाकिस्तान के मरहूम नेता सलमान तासीर (Salman Taseer) और भारतीय पत्रकार तवलीन सिंह (Tavleen Singh) के पुत्र हैं।

गृह मंत्रालय के प्रवक्ता के इस पूरे मामले पर दिए गए बयान पर पत्रकार तासीर ने ट्विटर पर विरोध दर्ज करवाया। इस बाबत किये अपने ट्वीट में उन्होंने लिखा कि उन्हें इसका जवाब देने के लिए 21 दिन नहीं, बल्कि सिर्फ 24 घंटे दिए गए थे।

गौरतलब है कि इन्हीं आतिश तासीर ने लोकसभा चुनावों के पहले पीएम मोदी की आलोचना करते हुए टाइम पत्रिका में ‘डिवाइडर इन चीफ’ नाम से एक कवर स्टोरी कि थी। पर गृह मंत्रालय के प्रवक्ता ने यहाँ यह साफ़ किया कि तासीर के ओसीआई कार्ड को रद्द करने और टाइम पत्रिका में लिखे उनके लेख में कोई सम्बन्ध नहीं है।

Spread this

4 thoughts on “मोदी को ‘डिवाइडर इन चीफ’ बताने वाले की भारतीय नागरिकता रद्द, छुपाया था पाकिस्तानी कनेक्शन

  1. Very nice post. I just stumbled upon your blog and wanted to say that I have truly enjoyed browsing your blog posts. In any case I’ll be subscribing to your feed and I hope you write again very soon!

  2. I definitely wanted to type a brief remark so as to say thanks to you for those stunning facts you are giving out at this site. My long internet search has at the end of the day been compensated with reasonable content to go over with my visitors. I would admit that we readers are undoubtedly lucky to dwell in a perfect site with very many marvellous professionals with good plans. I feel very grateful to have encountered your web page and look forward to so many more cool times reading here. Thank you once again for a lot of things.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Translate »