भाग कर शादी करने वाली साक्षी मिश्रा ने मीडिया से बातचीत में बताया अपना डर, पढ़ें पूरी बातचीत

  • Home
  • भाग कर शादी करने वाली साक्षी मिश्रा ने मीडिया से बातचीत में बताया अपना डर, पढ़ें पूरी बातचीत
Sakshi Mishra and Ajitesh

इसी साल के जुलाई महीने में बरेली (Bareilly) से भाजपा के विधायक राजेश मिश्रा (Rajesh Mishra) की बेटी साक्षी मिश्रा (Sakshi Mishra) और उसके प्रेमी अजितेश (Ajitesh) की प्रेम कहानी मीडिया में सुर्खियाँ बटोर रही थीं। साक्षी और अजितेश अब शादीसुदा जिन्दगी जी रहे हैं और उनकी शादी को चार महीने गुजर चुके हैं. ख़बरों के अनुसार साक्षी मिश्रा अपनी शादीसुदा जिन्दगी से तो खुश हैं पर अभी भी उन्हें एक डर हमेशा सताता रहता है इसीलिए वे ज्यादा घर से बाहर भी नहीं निकलती हैं.

पिछले मंगलवार को एक मीडिया संस्थान से बात करते हुए साक्षी मिश्रा ने अपनी वर्तमान जिन्दगी से जुड़ी कई बातें साझा जी. उन्होंने कहा कि “शादी के बाद से घर में कैद तो नहीं हूं, लेकिन अनहोनी के डर से बाहर आना-जाना थोड़ा कम ही है. क्योंकि मेरे या मेरे पति और मेरे ससुरालवालों के साथ यदि कुछ भी गलत होता है तो सब मेरे पापा और भाई को दोष देंगे.” अपने पिता और भाई के बारे में साक्षी ने कहा कि “अब वो लोग शांत हैं और अपने राजनीतिक कामों में व्यस्त हैं. पर सब कुछ सामान्य होने में समाज के ठेकेदारों की वजह से लंबा समय लग रहा है.”

अपनी शादीसुदा जिन्दगी के बारे में बात करते हुए साक्षी ने बताया कि “मैं शादी के बाद बेहद खुश हूँ क्योंकि पति अजितेश बहुत सपोर्ट करते हैं.” साक्षी ने कहा की “अजितेश का परिवार मेरा खयाल बहू की तरह नहीं बल्कि बेटी की तरह रखता है. लेकिन अपने परिवार की याद तो आती है क्योंकि जन्म से लेकर अपनी मर्जी से शादी से पहले तक का साथ कम नहीं होता. इसीलिए आज मैं भाई विक्की को सबसे ज्यादा याद करती हूँ.”

बहरहाल बता दें की कुछ दिनों पहले साक्षी के पिता और भाजपा विधायक राजेश मिश्रा एक बार फिर तब चर्चा में आ गए थे जब उन्होंने जमीन में गड़ी हुई एक नवजात बच्ची को गोद ले लिया था. राजेश मिश्रा ने बरेली के शमसान में मटके में गड़ी मिली नवजात बच्ची को अपनी बेटी बना कर गोद लिया और उसे सीता नाम दिया. ऐसा करने पर वही लोग उनकी तारीफ करते दिखे जो साक्षी के भाग कर शादी करने के बाद उन्हें गुनेहगार बता रहे थे.

ये भी पढ़ें: बेटी के प्रेमी संग भागने पर जो सरेआम हुआ जलील, मटकी में मिली अनाथ बच्ची को दिया उसने सहारा

  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *