पाकिस्तान पर होगा सूखे का सर्जिकल स्ट्राइक, 9,167 करोड़ रुपये से कश्मीर में बनेगा बाँध

Now Pakistan will have a surgical strike of drought, a dam will be built in Kashmir with Rs 9,167 crore
Spread this

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सरकार ने कई बार पाकिस्तान को दिए जाने वाले पानी को रोकने की बात कही है। इसी कदम को आगे बढ़ाने के लिए जम्मू-कश्मीर में बहुउद्देशीय उज्ज परियोजना लाया जा रहा है और इस परियोजना के कारण प्रदेश की नदियों का 90 फीसदी पानी प्रदेश में ही रहेगा। हाल ही में इस परियोजना को मंजूरी दी गई है जिसमे पाकिस्तान की ओर जाने वाले उज्ज के पानी को रोककर जम्मू-कश्मीर में ही इस्तेमाल करने का प्रावधान किया गया है। बचत के पानी को जम्मू और उधमपुर के कुछ इलाकों तक पहुंचाने की योजना भी को भी शामिल किया गया है।

प्रस्तावित उज्ज परियोजना की डीपीआर के अनुसार बाँध बनने के बाद बाँध के दाईं और बाईं ओर की नहरों से एक बड़े क्षेत्र की सिंचाई हो सकती है। केंद्रीय जल आयोग तथा रावी-तवी इरिगेशन केनाल के उच्च अधिकारी कहते हैं कि अभी तवी लिफ्ट इरिगेशन स्कीम से पानी को बाड़ी ब्राह्मणा तक पहुंचाया जाता है। परियोजना से पानी मिलने पर तवी के पानी को अब उधमपुर की तरफ भेज दिया जाएगा। इस तरह उधमपुर में मनवाल, किशनपुर व सटे कंडी क्षेत्रों को विशेष रूप से सिंचाई की सुविधा मिल सकेगी।

बता दें की इस परियोजना को अमली जामा पहनाने में देरी हुई है जिसके कारण इसकी लागत में इजाफा हो गया है। पहले यह परियोजना कुछ ही क्षेत्रों तक पानी भेजने के लिए प्रस्तावित हुआ था पर अब कठुआ, सांबा के साथ जम्मू और उधमपुर तक पानी पहुंचाने की योजना हो गई है। इस वजह से भी लागत में बढ़ोतरी हो गई है।

पहले से जो अनुमानित लागत थी इस परियोजना की उसमे अब 40% का इजाफा किया गया है। इस इजाफे के कारण अब रकम पांच हजार करोड़ रुपये से बढ़कर 9,167 करोड़ रुपये हो गई है।

Spread this

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Translate »