दूर करें अपनी कन्फ्यूजन, जानें लॉकडाउन 3 में क्या खुला है और क्या बंद है?

Remove your Confusion, know what is open and closed in Lockdown 3
Spread this

बढ़ते कोरोना वैश्विक महामारी को मद्देनजर रखते हुए मोदी सरकार 17 मई तक के लिए पुनः लॉकडाउन लगाया है। कल यानी सोमवार को लॉकडाउन-3 पहला दिन था और पहले ही दिन कई राज्यों में नियमों को तोड़े जाने के बहुत सारे मामले सामने आये। गौरतलब है की कल से शराब की दुकानों को भी खोल दिया गया है ऐसे में शराब की दुकानों के बाहर लोगों ने सबसे ज्यादा नियमों की धज्जियां उड़ाई।

शराब खरीदने आये लोगों ने इस दौरान सोशल डिस्टेंसिंग का पालन नहीं किया जिसकी वजह से कई जगहों पर पुलिस को न केवल शराब की दुकानें बंद करवानी पड़ी, बल्कि बल का प्रयोग भी करना पड़ा।

बता दें की केंद्र सरकार की तरफ से लॉकडाउन-3 की घोषणा करते समय कुछ निर्देश भी जारी किये गए थे जिनमे शराब की दुकानों को लेकर भी नियम तय किए थे। बावजूद इसके लोगों के बीच निर्देशों को लेकर असमंजस की स्थिति बनी रही।

बहरहाल इसके अलावा भी सरकार की तरफ से कई दिशानिर्देश जारी किये गए थे। आइये जानते हैं कि किस जोन (रेड, ऑरेंज, ग्रीन) के लिए सरकार के क्या दिशा-निर्देश हैं।

रेड जोन
इस जॉन में आरोग्य सेतु एप को डाउनलोड करना अनिवार्य है। इसके अलावा कंटेनमेंट जोन में कांटैक्ट ट्रेसिंग, निगरानी, घर-घर जांच, जोखिम के आधार पर लोगों को क्वारंटाइन करने जैसी कवायद तेज होगी। ऐसे जोन में दूध-सब्जी की आपूर्ति और मेडिकल इमरजेंसी के अलावा किसी भी तरह की आवाजाही प्रतिबंधित होगी। इसके अलावा प्रशासन से मंजूरी लेकर कार में ड्राइवर के अलावा दो व्यक्तियों को जाने की इजाजत है साथ ही अनुमति के साथ बाइक पर भी एक व्यक्ति आ जा सकता है। आवश्यक उत्पादों जैसे दवा, मेडिकल या आईटी उपकरण के साथ जूट उद्योग खुलेंगे। साइकिल रिक्शा-ऑटो रिक्शा, टैक्सी या कैब चलाने पर प्रतिबन्ध है। जिले के भीतर या बाहर बसों का परिचालन नहीं होना है स्पा और सैलून खोलने पर भी रोक है।

ग्रीन जोन
वैसे जिले जहां कोई केस नहीं या 21 दिनों से कोई केस नहीं वहां सभी तरह के वाहनों की आवाजाही की इजाजत है, 50 फीसदी क्षमता के साथ बसों का परिचालन भी हो सकता है। बस डिपो में भी सिर्फ 50 फीसदी बसों को चलाने की इजाजत है। सामान की पूरी तरह आवाजाही हो सकती है और इसके लिए मंजूरी की आवश्यकता नहीं है। हालांकि 65 से अधिक उम्र के बुजुर्ग, दस वर्ष से कम आयु के बच्चे गर्भवती और गंभीर बीमारियों से जूझ रहे लोगों को बाहर नहीं निकलने के निर्देश हैं। हाँ चिकित्सकीय कारणों से ही बाहर जा सकते।

ऑरेंज जोन
इस जॉन में रेडियो टैक्सी, ओला-उबर चलाई जा सकेंगी इसके अलावा ड्राइवर के साथ दो यात्री आ-जा सकेंगे। हालांकि टैक्सियों के जिले के बाहर जाने पर पाबंदी है। निजी वाहन में भी ड्राइवर के अलावा दो यात्री जा सकेंगे और बाइक पर दो व्यक्तियों की आवाजाही हो सकेगी।

Spread this

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Translate »